Thursday , November 23 2017
Home / Local / आप मुझे एक मौका दें इंशा अल्लाह मैं आप लोगों को मायुस नहीं करूंगा: शफीकुर रहमान

आप मुझे एक मौका दें इंशा अल्लाह मैं आप लोगों को मायुस नहीं करूंगा: शफीकुर रहमान

ज़रा सोचिए: 1998 से लेकर दिसंबर 2013 तक दिल्ली में कांग्रेस की सरकार रही। इस अंतराल दस साल केंद्र में भी कांग्रेस की ही सरकार रही।

ओखला के विधायक और सांसद भी कांग्रेस पार्टी से थे। इसी अंतराल में अबुल फजल व शाहीन बाग क्षेत्र के पार्षद भी कांग्रेसी ही थे। यानी ऊपर से लेकर नीचे तक हर शक्ति कांग्रेस के पास थी। फिर भी अबुल फजल व शाहीन बाग में पानी नहीं आया।

shafiqurrahmanइस वार्ड में न तो MCD स्कूल बनवाया और न ही एक भी बारात घर। यही हाल स्वास्थय के क्षेत्र में भी रहा। वार्ड 102 में न तो डिस्पेंसरी खुला न ही कोई अस्पताल। गली मुहल्ले की पहचान गंदगी रही और हम कांग्रेस के नाम पर वोट देते रहे।

अब वही कांग्रेस विकास के नाम पर वोट मांग रही है। और विकास पूछो तो मेट्रो और फ्लाई आवर दिखला रही है। मेरा सवाल है कि क्या हमारे बच्चे मेट्रो में पढ़ेंगे?

क्या ईलाज फ्लाई आवर पर होगा? क्या दवा सड़कों से मांगेंगे? यह नगर निगम का चुनाव है और नगर निगम के अंतर्गत जो काम आता है वह कांग्रेस ने अपने कार्य काल में कितना किया वह बताना चाहिए।

और पूरे वार्ड में घुमने पर न कुछ मिलेगा और न ही कुछ दिखेगा। सबसे बड़ी बात सब कुछ आप लोगों के सामने है। गंदगी और सुविधाओं का अभाव सब आपके सामने है। अब फिर से वही कांग्रेस विकास का झांसा देकर वोट मांग रही है। लेकिन वोट देने से पहले एक सवाल यह जरूर पूछिएगा कि जब केन्द्र से लेकर नगर निगम में तुम्हारे लोग सालों से थे तब हमारे वार्ड के लिए कुछ नहीं किया तो अब क्या कर लोगे जबकि अब तो केंद्र में बीजेपी और दिल्ली में आम आदमी पार्टी है।

इन तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए आप मुझे एक मौका दें इंशा अल्लाह मैं आप लोगों को मायुस नहीं करूंगा। वार्ड नं 102 की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए मैंने जो घोषणा पत्र जारी किया है उसे हर हाल में लागू करूंगा।

23 अप्रैल को लालटेन के बटन पर वोट देकर वार्ड नं 102 को सबसे बेहतर वार्ड बनाने के मेरे संकल्प को बल दें।

आपका अपना
शफीकुर रहमान
राजद प्रत्याशी
वार्ड नं 102 अबुल फजल
ओखला

DISCLAIMER: The views are of Shafiqur.

OT marketing initiative

If you have news tip or story idea, photo or video please email at greenokhla@gmail.com to strengthen local governance and community journalism. Also you can join us and become a source for OT to help us empower the marginalized through digital inclusion.

Check Also

Okhla mosque where namaz not held for days; know the reason

A mosque in Okhla is empty with no namaz being offered for days, according to …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by moviekillers.com