Thursday , February 22 2018
Home / JMI/Campus / ‘बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ पर जामिया छात्रों ने किया नुकड़ नाटक

‘बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ पर जामिया छात्रों ने किया नुकड़ नाटक

‘बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ पर जामिया छात्रों ने किया नुकड़ नाटक
A report by शुभम पांडे
भारत सरकार की ‘बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत जामिया मिल्लिया इस्लामिया के राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्रों ने इस विषय पर शुक्रवार, 20 जनवरी 2017 को नुकड़ नाटक का प्रदर्शन किया था जिसे दो जगहों पर किया गया जिसमें पहला विश्वविद्यालय की सेंट्रल कैंटीन के सामने एवं दूसरा जामिया से निकट कम्यूनिटी सेंटर बाज़ार में किया गया।

jmistudentnccइस नुकड़ नाटक के आयोजन की जिम्मेदारी जामिया इकाई की राष्ट्रीय सेवा योजना के प्रोग्राम क्वाडीनेटर प्रो. एन. यू. ख़ान तथा प्रोग्राम ऑफिसर डॉ. आबिद हुसैन द्वारा दी गई थी जिसमें कुल 19 छात्रों ने भाग लिया जिसमें 12 छात्र फैज़ल इकबाल, सना इस्लाम, रम्शा, नीलोफर, उरूशा, हमज़ा, ताहिर, सदफ, मुज़म्मिल, श्याम मेहता, आलय मुस्तफा, दुआ नाटक प्रतिभागी थे तथा अन्य 7 छात्र अलफिया अंसारी, मुबश्शिर, अरीबा, नासिर, अब्दुल्लाह, इस्मत और इरफान ने सहायक सदस्य के रूप में काम किया। नुकड़ नाटक के द्वारा छात्रों ने उपस्थित सभी दर्शकों को यह समझाने का प्रयास किया कि उज्ज्वल भविष्य, एक बेहतर समाज व देश की प्रगति में बेटियाँ एक अहम भूमिका निभा रही है और सभी लोगों को उन्हें बेहतर उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए अपने स्तर पर प्रोत्साहित करना चाहिए।

If you have news tip or story idea, photo or video please email at greenokhla@gmail.com to strengthen local governance and community journalism. Also you can join us and become a source for OT to help us empower the marginalized through digital inclusion.

Check Also

Why Muslims count for next to nothing

Social relations in the Quranic perspective

Lecture series on Quranic teachings announced. The K A Nizami Centre for Quranic Studies, Aligarh …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

Powered by moviekillers.com