Wednesday , August 23 2017
Home / Local / हम कहां खड़े हैं? बुराई जब परवान चढ़ती है तो किसी घर को नहीं छोड़ती

हम कहां खड़े हैं? बुराई जब परवान चढ़ती है तो किसी घर को नहीं छोड़ती

हम कहां खड़े हैं? बुराई जब परवान चढ़ती है तो किसी घर को नहीं छोड़ती।

कुछ देर पहले पड़ोस के एक साहब ने आकर मुझे जगाया और दो बुरी ख़बरें दीं।

एक तो यह कि हमारी गली नं 7, ठोकर नं 6 शाहीनबाग़ में फज़्र की नमाज़ के बाद उनकी बिल्डिंग में चोरी हो गई। नमाज़ियों की नींद जैसे ही गहरी हुई चोर एक ऐसे फ्लेट में घुसे जिसके मालिक अपनी बीमार मां को छोड़ने फेमेली के साथ अपने वतन गये हुए थे। चोरों ने उस फ्लोर के बाक़ी फ्लेटों की कुंडी बाहर से लगा दी थी।

ok

उन्होंने पुलिस को फोन किया तो मालूम हुआ कि पुलिस दो और वारदातों में लगी है। एक तो डी ब्लॉक में इसी तरह की चोरी की।

और दूसरी जी ब्लॉक, 40 फुटा रोड़, शाहीनबाग़ में एक लड़की के साथ रेप की। यह वही जगह है जहां लोगों को जगाने के लिए पिछले एतवार ही को वॉलंटीयर्स ऑफ चेंज ने ‘डिग्नीटी ऑफ वीमन’ पर अपना प्रोग्राम किया था।

जब यह प्रोग्राम हो रहा था पास पड़ोस के लोग नमाज़ से फारिग़ हो कर तेज़ी से अपने घरों की ओर जा रहे थे और मुक़र्रीन सोच रहे थे कि लोगों को कैसे जगाया जाए। शायद इस वाक़ये को अपने आसपास होता देखकर उनकी आंखें खुले।

बुराई जब परवान चढ़ती है तो किसी घर को नहीं छोड़ती। वो हमारे आसपास ही शिकार ढूँढती है। हमारे आंखें बंद करने से उसका कुछ नहीं बिगड़ता। उसके ख़िलाफ जद्दोजहद से ही उसका ख़ात्मा मुमकिन है।

अगर हमने अपने नवजवानों की राह दुरुस्त नहीं की तो ओखला में रोड़ एक्सीडेंट, चोरी, नशा और रेप की वबा को रोकना मुश्किल होगा।

अब्दुल रशीद अगवान

If you have news tip or story idea, photo or video please email at greenokhla@gmail.com to strengthen local governance and community journalism. Also you can join us and become a source for OT to help us empower the marginalized through digital inclusion.

Check Also

mcdonald'sokhla

Where will I get my burger now? Okhla wonders as McDonald’s outlet in NFC shut

It all depends how deeply you have been relishing eating burgers at McDonald’s in New …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

Powered by moviekillers.com