Wednesday , August 23 2017
Home / Opinion

Opinion

DUNKIRK: A MOVIE MONOGRAPH ON WAR

Cinematically speaking, Christopher Nolan ‘s Dunkirk is indeed, thematically and cinematographically, a masterpiece from the Master whose multi-layered and nuanced meanings would be dissected forever and would motivate many moviemakers, writes Sushil Kumar. It is almost a movie monograph on motivation of men caught in war- instinct for survival at …

Read More »

मम्मीः हॉलीवुड की एक और मसाला फिल्म

अगर टॉम क्रूज की नई फिल्म देखें तो कह सकते हैं कि सच में ग्लोबलाइजेशन का असर चीजों के साथ साथ विभिन्न देशों की फिल्मों के चरित्र चित्रण, चिंतन, चैतन्यावस्था पर भी पड़ा है. इस फिल्म में पूरब की प्राचीन सभ्यता, खासकर मिस्र का मूल मंत्र यानी पुनर्जन्म के सूत्र …

Read More »

उस मुस्लिम बच्ची ने आसमान तो छू लिया मगर अहसास कमतरी ने उसे अपनी जान लेने पर मजबूर कर दिया

उस मुस्लिम बच्ची ने आसमान तो छू लिया मगर अहसास कमतरी ने उसे अपनी जान लेने पर मजबूर कर दिया। कर्नाटक के मलूर गांव की रफशिना चार दिन पहले अख़बार की हेडलाइन बनी कि एक ग़रीब मुस्लिम परिवार की लड़की ने कर्नाटक बोर्ड को टॉप किया और 1200 में से …

Read More »

Muslim personal law: Supreme Court needs to obtain world Muslim counsel

Muslim personal law: Supreme Court needs to obtain world Muslim counsel Dr Syed Zafar Mahmood, President, ZakatIndia.org National boundaries do not always remain constant; on account of various factors these keep changing after every few decades or even over a century or so. This ground reality supports the hypothesis that …

Read More »

BAHUBALI 2: MAGIC REALISM CREATED BY MYTHOLOGY AND TECHNOLOGY

INTRODUCTION:Welcome to the world of cine magic-realism where a de-novo historical fictional reality is created as if by magic and Midas touch of the director S.S. Rajamouli, writes filmoanlyst Sushil Kumar. Bahubali’s ever growing magical spell is mesmerizing Indian masses and its moolah multiplication at box office is undiminished even …

Read More »

बेगम जानः जान है इस फिल्म में

सुशील कुमार बेगम जान श्रीजीत मुखर्जी की बंगाली फिल्म राजकहानी का हिंदी रूपांतरण है. फिल्म की कहानी भारत की आजादी और विभाजन को पृष्ठभूमि में रखते हुए कई मसलों और मुद्दों पर सामाजिक टिप्पणी है. फिल्म से जाहिर है कि बंटवारे की एक रेखा कितने लोगों के जीवन को उलट-पलटकर …

Read More »

Electronic voting machines (EVMs) deserve multi-party control

Electronic voting machines (EVMs) deserve multi-party control by Dr Syed Zafar Mahmood, President, ZakatIndia.org To conduct the polling for parliamentary election and those for the provincial assemblies the election commission of India (ECI) procures the EVMs from two public sector undertakings namely Bharat Electronics Ltd, Bangalore and Electronics Corporation of …

Read More »

कवाब, कोरमा और बिरयानी में उलझा मुसलमान

डॉ अबरार मुल्तानी: अरे मुसलमानों सीएम योगी का जो यह बूचड़खाने बंद करवाने का फैसला है, वह तुम्हारे हक़ में है। क्यों यह दूसरी पार्टी के बहकावे में आकर विरोध कर रहे हो। 500 रूपए किलो का सालन डकार कर जो तुम पसर जाते थे उस पैसे से अब अपने …

Read More »

Powered by moviekillers.com