Friday , August 18 2017
Home / Local / इंजीनियर बनने के बाद इस देश को मत भूल जाना: अरविंद केजरीवाल

इंजीनियर बनने के बाद इस देश को मत भूल जाना: अरविंद केजरीवाल

इंजीनियर बनने के बाद इस देश को मत भूल जाना : अरविंद केजरीवाल

– दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़कर जेईई (मेन्स) क्वालिफाई करने वाले 372 बच्चों के साथ मुख्यमंत्री और उप-मुख्यमंत्री का संवाद

– उप-मुख्यमंत्री ने इन बच्चों से कहा कि आप हमारे सरकारी स्कूलों के ब्रांड एंबेसडर हो

आने वाले अगले चार साल आपकी पूरी जिंदगी की नींव रखने वाले हैं। जिस भी इंजीनियरिंग कॉलेज में जाना, वहां केवल किताबी कीड़ा बनकर मत रहना। केवल नंबरों के पीछे मत भागना। कल्चरल एक्टिविटीज-स्पोट् र्स एक्टिविटीज में भी खूब पार्टिसिपेट करना। वहां से आपकी एक अच्छी पर्सनैलिटी निकलकर सामने आनी चाहिए।

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़कर जेईई (मेन्स) क्वालिफाई करने वाले 372 बच्चों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ये बात कही।

त्यागराज स्टेडियम में मंगलवार को आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, हमें आप सब पर गर्व है। आप सबको बधाई। आप सबको आशीर्वाद। आपके पैरेंट्स, टीचर्स और शिक्षा विभाग के सभी अधिकारियों- कर्मचारियों को बधाई, जिनकी मेहनत की बदौलत ये संभव हुआ है।

मुख्यमंत्री ने ये भी कहा कि पहले लोग अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में नहीं पढ़ाना चाहते थे लेकिन पिछले दो साल के भीतर दिल्ली के सरकारी स्कूलों में जो शिक्षा क्रांति हुई है, जो मेहनत हुई है, आप जैसे बच्चे उसी का आउटपुट हैं। सरकारी स्कूल के बच्चों में आत्मविश्वास पैदा हुआ है कि हम किसी से कम नहीं हैं। हम भी कर सकते हैं। आपने जेईई (मेन्स) क्वालिफाई किया है और आप आने वाले बच्चों के लिए मिसाल बन रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल ने इन बच्चों से एक अपील करते हुए कहा, जब इंजीनियर बनकर निकलो, तब इस देश को मत भूल जाना। अपनी कमाई का थोड़ा सा पैसा और अपनी जिंदगी का थोड़ा सा हिस्सा, इस देश के नाम लगा देना, जैसे आप लोगों को इस देश ने पढ़ाया, वैसे आप लोगों की कमाई से दूसरे बच्चे भी पढ़ें और ये देश आगे बढ़ता रहे।
उन्होंने कहा, आपके एजुकेशन में गरीब से गरीब आदमी का पैसा लगा हुआ है। आप सबने सरकारी स्कूलों में पढ़ाई की है। इन स्कूलों को चलाने के लिए गरीब से गरीब आदमी टैक्स देता है। अब आप सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजेस में जाएंगे, वहां भी गरीब से गरीब आदमी के टैक्स से दिये हुए पैसों से आपकी पढ़ाई होगी। इसलिए इंजीनियर बनने के बाद इस देश को मत भूल जाना।

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने इन बच्चों को संबोधित करते हुए कहा, आप सब लोग हमारे ब्रांड एंबेसडर हैं। आप जहां भी जाओगे दिल्ली के सरकारी स्कूलों को झंडे गाड़ रहे होगे।

उन्होंने ये भी कहा कि आप जिन स्कूलों से पढ़कर निकले हैं, वहां और भी होनहार बच्चे हैं। दिल्ली के सभी सरकारी स्कूलों में होनहार बच्चे हैं। उनके करियर को संवारने के लिए, उनके करियर को पंख लगाने के लिए आगे आएं। आप हमें इनपुट दें कि 9वीं, 10वीं, 11वीं और 12वीं के बच्चों के आगे के करियर को संवारने के लिए सरकार को क्या-क्या करना चाहिए।

If you have news tip or story idea, photo or video please email at greenokhla@gmail.com to strengthen local governance and community journalism. Also you can join us and become a source for OT to help us empower the marginalized through digital inclusion.

Check Also

swinefluokhla

Swine flu threat grows; Okhla-based activist hospitalised

Okhla-based activist is down with swine flu and has been hospitalized in a local private …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

Powered by moviekillers.com